विटामिन डी शरीर के लिए क्यों जरुरी है? जानिए इसकी कमी, लक्षण और पूरक के बारे में

6 minute
Read
विटामिन डी.webp

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी और पेकेज्ड फूड की वजह से हमारे शरीर को कई जरुरी और आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व नही मिल पा रहे है। जिसके चलते लोगों में विटामिन और पोषक तत्वों की कमी देखी जा रही है। इसी तरह विटामिन डी की कमी भी अधिकतर लोगों में देखी जा रही है। एक सर्वे के अनुसार देश में लगभग एक चौथाई आबादी को विटामिन डी की कमी का खतरा है। विटामिन डी हमारे शरीर के लिए एक अतिआवश्यक विटामिन है। यह सीधे तौर पर हमारे इम्यून सिस्टम पर प्रभाव डालता है। इसके अलावा शरीर में कैल्शियम को सोखने में विटामिन डी मदद करता है। यदि किसी में विटामिन डी की कमी पाई जाती है तो वह व्यक्ति बार-बार बीमार होता है। इसके अलावा थकान, हड्डियों में दर्द, सर्दी झुकाम जैसे कई लक्षण दिखाई देते है। 

विटामिन डी की कमी होने पर दिखाई देने वाले लक्षण-

शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर निम्न लक्षण दिखाई देते है-

1. हमेशा थकान महसूस होना -

शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर व्यक्ति को हमेशा थकान महसूस होती है। हर वक्त थकान महसूस होना विटामिन डी की कमी का सबसे बड़ा संकेत है। यदि आप सही डाइट लेने के साथ ही अच्छी नींद भी ले रहे है। इसके बाद भी थकान और कमजोरी रहती है तो इसका कारण विटामिन डी की कमी हो सकता है।

2. बालों का झड़ना -

वैसे तो बाल झड़ने के कई कारण हो सकते है लेकिन विटामिन डी की कमी भी इसका एक कारण है। शरीर में विटामिन डी की कमी से सामान्य से बहुत ज्यादा बाल झड़ने लगते है। विटामिन डी हेयर फॉलिकल्स को बढ़ाने में मदद करता है। यदि विटामिन डी की कमी हो जाए तो अचानक से बहुत ज्यादा बाल झड़ने शुरु हो जाते है।

3.डिप्रेशन और मूड खराब होना -

विटामिन डी की कमी वाले व्यक्ति को ऐंग्जाइटी महसूस होती है। इसके अलावा व्यक्ति हर वक्त डिप्रेशन फील करता है। यदि व्यक्ति का हमेशा मूड भी खराब रहता है तो यह भी विटामिन डी की कमी का लक्षण होता है। 

4. हड्डियों और पीठ में दर्द रहना -

विटामिन डी की शरीर में कमी से व्यक्ति की हड्डियों और पीठ में हमेशा दर्द बना रहता है। दरअसल, हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए कैल्शियम की जरुरत होती है। शरीर में कैल्शियम को एबज़ॉर्ब करने के लिए विटामिन डी की आवश्यकता होती है। ऐसे में यदि शरीर में विटामिन डी की कमी है तो शरीर खाने से कैल्शियम एबज़ॉर्ब नही कर पाएगा और शरीर में कैल्शियम की कमी बनी रहेगी।

5. चोट और घाव का जल्दी ठीक नही होना -

शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर चोट और घाव जल्दी ठीक नही होते है। यदि घाव देरी से भर रहे है या चोटें ठीक नही हो रही है तो शरीर में विटामिन डी की कमी हो सकती है। शरीर में विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा सूजन, जलन और इंफेक्शन को रोकने में मदद करती है।

विटामिन डी की कमी दूर करने के लिए डाइट में शामिल करें ये चीजें -

विटामिन डी की शरीर में कमी होने पर कई तरह के लक्षण दिखाई देते है। यदि आप विटामिन डी की कमी से जूझ रहे है तो अपनी डाइट में इन चीजों को शामिल करके इस कमी को दूर कर सकते है।

1. अंडे को डाइट में शामिल करें -

अंडा विटामिन डी का अच्छा स्रोत होता है। अंडे में कई तरह के महत्वपूर्ण पोषक तत्वों के साथ विटामिन डी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अंडे के सफेद हिस्से में प्रोटीन, कैल्शियम पाया जाता है। तो वहीं पीले वाले हिस्से में फैट, विटामिन्स और मिनरल्स पाए जाते है। एक अंडे में आपको 5 प्रतिशत तक विटामिन डी मिलता है।

2. दही को डाइट में शामिल करें -

दही में भरपूर मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है। दही को डाइट में शामिल करके आप विटामिन डी की कमी पूरी कर सकते है। दही में अन्य महत्वपूर्ण मिनरल्स और विटामिन भी पाए जाते है जो आपके शरीर के लिए बेहद जरुरी होते है।

3. गाय के दूध को डाइट में शामिल करें -

भैंस के दूध की अपेक्षा गाय के दूध में अधिक मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है। हालांकि गाय के लो फैट मिल्क की जगह फुल क्रीम मिल्क में ज्यादा मात्रा में कैल्शियम और विटामिन डी मिलता है।

4. संतरे को डाइट में शामिल करें -

संतरे का जूस डाइट में शामिल करने से भी विटामिन डी की कमी पूरी होती है। संतरे में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा संतरे में विटामिन डी भी काफी मात्रा में पाया जाता है। नियमित रूप से डाइट में संतरे का जूस शामिल करने से विटामिन डी की कमी को दूर किया जा सकता है।

5. साल्मन फिश को डाइट में शामिल करें -

जो लोग नॉनवेज खाते है वे लोग साल्मन फिश को अपनी डाइट में शामिल करके विटामिन डी की कमी को पूरा कर सकते है। साल्मन में विटामिन डी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसमें ओमेगा-3 फैटी ऐसिड भी पाया जाता है। 100 ग्राम साल्मन में में 66 प्रतिशत तक विटामिन डी पाया जाता है। 

यदि आप भी विटामिन डी की कमी से जूझ रहे है और इस तरह के लक्षण दिखाई दे रहे है तो डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। इसके अलावा शरीर में विटामिन डी की कमी जांचने के लिए लैब टेस्ट भी किए जाते है।

जानें महिलाओं में विटामेन 'ए' की कमी के बारे में इस लेख में।

image-description
report Report this post