कम मेहनत और देखभाल में उगाये ये 5 सब्जियां

9 minute
Read
कम मेहनत और देखभाल में उगाये ये 5 सब्जियां.webp

हरियाली हम सभी को पसंद है क्योंकि ये दिल को एक अजीब सा सुकून देती है...

शहरी जीवन में ये हरियाली कहीं खो सी गई है। अब जिंदगी अपार्टमेंट और फ्लैट्स में सिमटने लगी है। हमारे जगह की कमी होने लगी है और इसीलिये बहुत से लोगों को लगता है वो अपने घर में किचन गार्डन नहीं बना सकते है।

लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि कुछ सब्जियां ऐसी भी है जो कम मेहनत में भी उगाई जा सकती है। सबसे अच्छी बात ये है कि 5 सब्जियाँ आप अपने घर में रखे छोटे गमले में भी उगा सकते है। यानि आपको बड़े गमलों पर पैसे खर्च करने जरुरत ही नहीं है।

  1. बुश बींस – उगाने में आसान और खाने में बेहतरीन

अगर आप बींस के दिवाने है तो आप बुश बींस जरूर उगायें। सबसे अच्छी बात ये हैं कि बुश बींस में बहुत ही ज्यादा पोषक तत्व होते है जो इसे दूसरी सब्जियों से ज्यादा खास बनाते है। सबसे खास बात ये ही है कि सब्जी आसानी से उग जाती है। यानि अगर आप चाहते है कि आपके गमले में कुछ आसानी से उग जायें तो आपको बुश बींस जरूर ट्राई करना चाहिये।

  • क्यूं लगायें बुश बींस को –

बुश बींस का पौधा दिखनें में भी काफी खूबसूरत लगता है और ये बात भी इसे दूसरों से अलग बनाती है। बुश बींस इसलिय भी बहुत ही ज्यादा पसंद किया जाती है क्योंकि बस 20 दिन से भी कम समय में ये सब्जी देने लगता है। आपके गार्डन में इससे एक खास तरह की चमक आ जाती है । चाहें सेहत की बात हो या फिर बगीचे और भी ज्यादा सुंदर बनाना हो, बुश बींस का जवाब नहीं है।

  1. उगायें बेबी गाजर अपने घर में आसानी से –

क्या आपको गाजर खाना बेहद पसंद है तो आप इसे अपने घर पर उगा सकते है। जीं हाँ, हम बात कर रहे है बेबी गाजर की। इसका टेस्ट और इसके हेल्थ बेनिफिट बहुत ही जबरदस्त है ।

  • अब बात आती है कि बेबी गाजर उगाये कैसे –

बेबी गाजर के लिये बस आपको चाहिये एक अच्छी मिट्टी से भरा कंटेनर। और उसमें डालने होगे बेबी गाजर के बीज। ध्यान रहे कि आप अच्छी खाद का प्रयोग करें। बेबी गाजर के बीज आसानी से बाजार में मिल जाते है तो आपको इसके लिये परेशान होने की जरुरत नहीं है। सबसे अच्छी बात है कि बेबी गाजर को बहुत ज्यादा देखभाल या फिर ध्यान देने की जरुरत नही पड़ती है। अगर आप इसे सिर्फ दो से तीन दिन में सिर्फ एक बार भी पानी दें देंगे तो भी ये आसानी से उग जाती है।

  • गाजर के फायदे –

गाजर ना केवल खाने में बहुत ही ज्यादा टेस्टी लगती है ब्लिक इसे खाने फायदे भी लाजवाब है। इससे आप कई तरह की सब्जियाँ और मिष्ठान भी बना सकते है। इसे खाने के फायदे बहुत ही ज्यादा है और इसीलिये इसे उगाना काफी फायदेमंद हो सकता है। अगर आपके घर में जगह है तो इसे जरुर उगाईये और खाईये। ये आपको सेहदमंद रखने में काफी मदद कर सकती है।

तो इस तरह से ये कहा जा सकता है बेबी गाजर को उगाना काफी आसान होता है और आप इसे आसानी से उगा सकते है।

  1. मूली के बिना सलाद अधूरा है –

अगर बात की जाये अन्य सब्जियों की जिन्हें उगाया जा सकता है तो मूली के बात किये बिना लिस्ट अधूरी रहेगी। मूली के बिना सलाद अधूरा है और इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है। और सबसे खास बात है कि मूली को आसानी से उगाया भी जा सकता है। यानि आप मूली को अपने घर की छत पर या किचन गार्डन में उगा सकते हैं।

  • क्या मूली को मौसमी परिस्थति की जरूरत पड़ती है –

मूली से यूँ तो कई तरह की चीजे बनती है चाहें वो अचार हो, परांठे हो या फिर सलाद या फिर कुछ और। मूली अपने पोषक तत्तवों के लिये जानी जाती है। सबसे बड़ी बात तो मूली को और भी खास बनाती है वो ये कि इसे किसी भी मौसमी परिस्थिति की जरुरत नहीं पड़ती है। यानि की आसान शब्दों में ये कहा जा सकता है कि इसे आसानी से किसी भी मौसम में उगा सकते है।

  • कितने दिन में उग जाती है मूली –

मूली को उगाने के लिये आपको मूली को बीज जमीन में गाड़ देने चाहिये। और उन्हें लगभग 1 से 3 दिन पानी देना चाहिये। आमतौर पर मूली को उगने में लगभग 25 दिन का समय लग जाता है। अगर कुछ अलग मामलों की बात करें तो तकरीबन 30 भी लग सकते है। क्योंकि ये सब्जी घर में उगी हुई है इसीलिये आप इन्हें कीटनाशक मुक्त सब्जी कह सकत हैं। यानि आपकी सेहत को कोई खतरा नहीं होगा। और आप जितना चाहें इन्हें उगा सकते है।

  1. खीरा भी उगाने में काफी आसान सब्जी है-

जी हां, खीरा भी आप आसानी से अपने घर में उगा सकते है। खीरे  को चाहें तो आप कच्चा भी खा सकते है या फिर कई तरह के रेसिपीज में प्रयोग कर सकते है। सबसे बड़ी बात खीरा किसी भी मौसम में आसानी से उग जाता है। इसकी पैदावार करने में ज्यादा समय भी नहीं लगता है।

कैसे उगाये खीरा –

खीरा उगाने के लिये आप ट्रेलिसेस का भी उपयोग कर सकते हैं। खीरे उगने में कम से कम 3 से 4 हफ्तों का समय लग जाता है । ध्यान रखें कि आपको अच्छी क्वालिटी का बीज का उपयोग करना चाहिये। इस पौधे को आपको रोज नियमित तौर पर पानी देना होगा। चाहे खीरा हो या कुछ और, ताज़ी सब्ज़ी खाने के अपने ही फायदे है और इस बात से इन्कार नहीं किया जा सकता है।

  1. चुकंदर उगायें और इसका जायका ले भरपूर –

चुकंदर जितना दिखने में लजावाब है, उतना ही उगाने में आसान। चुकंदर की सब्जी अपने आप में बहुत ही ज्यादा खास है और इसकी सबसे अच्छी बात ये है कि इसे उगाने में बहुत ज्यादा मेहनत भी नहीं करनी पड़ती है। इसके अलावा सबसे अच्छी बात ये है कि चुकंदर की पत्त्तिया भी कमाल होती है क्योकि इनमें बहुत सारे पोषक तत्व होते है।

चुंकदर लगाते समय किस बात का ध्यान रखना है –

  • सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात ये ही कि ये सब्जी बहुत ज्यादा गर्मी बर्दाश्त नहीं कर पाती है, यानि आपको इसे ऐसी जगह लगाना है जहां छाव भी बराबर बनी रहे।
  • अगर चुकंदर अपने घर में लगाना चाहते है तो आपको ये ध्यान ऱखना है कि आप इसे अप्रैल से जुलाई के बीच में ना लगाये। इसके अलावा आप कोई भी महीना चुन लें।
  • एक बार लगाने के बाद इसे रोज नियमित तौर पर पानी दें। इसके बीज को अंकुरित होने में लगभग 25 से 30 दिन का समय लग जाता है।

ध्यान रहें की आप अच्छी खाद का प्रयोग कर रहे हैं ताकि आपके पौधों की अचछी ग्रोथ हो सके।

इन सब्जियों के अलावा आप मिर्ची, धनिया और टमाटर भी आसानी से उगा सकती है। ताजी सब्जियां खाने का स्वाद भी एकदम अलग और जबरदस्त होता है।

ध्यान रखने वाली बातें –

  • अच्छी सब्जियां उगाने के लिये बहुत ही जरूरी है कि गमले का साइज सही हो। अगर आप टमाटर, बैंगन या फिर मिर्च उगाने जा रहे हैं तो इनके लिये आपके गमले का साइज होना चाहिये 12-15 इंच तक का। और अगर आप अपने घर में उगाने जा रहे हैं मेथी, पालक या फिर धनिया तो आपके गमले का साइज होना चाहिये 12 से 8 इंच तक का। सही गमले का साइज लें ताकि पौधे सही से ग्रो कर सके।
  • घर पर सब्जियाँ उगाना बिल्कुल भी मुश्किल नहीं है। आपको चाहिये कि अच्छी क्वालिटी के बीज का ही प्रयोग करें। अच्छे बीजों को प्रयोग करने से आपको सही समय पर अच्छी सब्जियां खाने को मिलती रहती है। ध्यान रहें की पौधे को कम से कम 3-5 घंटे की धूप मिलती रहे ताकि वो अच्छे से बढे हो सके।
  • अगर आप अच्छे चाहते है कि आपके गमले में अच्छी सब्जियाँ उगे तो ध्यान रहें कि आपके पास अच्छी क्वालिटी की मिट्टी भी होनी चाहिये। उसमें सभी तरह के पोषक त्तत्व भी हो। मिट्टी को गमले में डालने से पहले उसे कम-से-कम एक से दो दिन तक सूखा ले। इसे उसके अंदर के कीडे-मकोडें और फंफूदी खत्म हो जायेगी। इसके बाद आप मिट्टी और गोबर दोनों को मिला ले। अपने गमले को पूरी तरह से मिट्टी से ना भरें, उसमे थोड़ी से जगह खाली छोड दें ताकि पौधे से पानी निकलने में कोई परेशानी ना हो।
  • इसके अलावा आपको ये भी ध्यान रखना है कि सब्जियां उगाने का सही समय क्या है । सही समय पर लगाई सब्जियां अधिक फलती और फूलती है। इसके अलावा उनमें कीडे लगने का डर भी नहीं रहता है। अगर आपक लौकी, तोरी, मूली या फिर भिण्डी लगानी है जो कि गर्मियों की सब्जियां है, तो आप इन्हें मार्च, फरवरी या फिर अप्रैल के महीने में लगा सकते है। इसके अलावा मई, जून और जुलाई के महीने में बैंगन, टमाटर, सेम, कद्दू की फसल लगा सकते है।

और अंत में –

तो आप इनमें से कोई भी सब्जी अपनी सुविधानुसार लगा सकते है। कुछ लोग सब्जियाँ सिर्फ इसलिये नहीं लगाते हैं क्योंकि उन्हें सब्जियां खानी हैं, बल्कि इसलिये भी लगाते हैं क्योंकि काफी अच्छी हरियाली आपके आंगन में कर देती है। और साथ ही साथ ये आपको एक अलग तरह का सुकुन भी देती है कि आपने खुद से कुछ उगाया है।

image-description
report Report this post